अजय देवगन ने फिल्म ‘बादशाहो’ का प्रमोशन किया

_DSC8685बॉलीवुड अभिनेता और फिल्म निर्माता-निर्देशक अजय देवगन इन दिनों अपनी आगामी फिल्म ‘बादशाहो’ के प्रमोशन में बिजी है। अजय देवगन पिछले ढाई दशक से इस फिल्म इंडस्ट्री में राज कर रहे हैं। इस दौरान वह हर तरह के किरदारों को पर्दे पर निभा चुके हैं, वहीं दर्शकों ने भी उन्हें हर रूप में सराहा है। फिलहाल उनकी चर्चा बहुत जल्द रिलीज होने जा रही फिल्म ‘बादशाहो’ को लेकर हो रही है, जिसके प्रमोशन के सिलसिले में वह फिल्म के प्रोड्यूसर भूषण कुमार, डायरेक्टर मिलन लूथरिया एवं अपने सह-कलाकारों- इमरान हाशमी, इलियाना डि‘क्रूज और ईशा गुप्ता के साथ राजधानी दिल्ली में थे। इस दौरान सभी कलाकारों एवं फिल्म के डायरेक्टर ने ‘बादशाहो’ को लेकर अपनी-अपनी राय मीडिया के सामने रखी।

अजय देवगन से यह पूछने पर कि पुराने निर्देशक दोस्त मिलन लूथरिया के साथ एक बार फिर काम करने का अनुभव कैसा रहा? उन्होंने कहा, ‘हमेशा की तरह बेहतरीन अनुभव रहा। मिलन लूथरिया के साथ यह मेरी चैथी फिल्म है। इससे पहले हमने मिलन के साथ ‘कच्चे धागे’, ‘चोरी-चोरी’ और ‘वंस अपॉन अ टाइम इन मुंबई’ की है। इनमें से दो फिल्में सुपरहिट साबित हुई हैं। ‘बादशाहो’ भी हमारा ड्रीम प्रोजेक्ट है, जिसकी सिफलता को लेकर हम सबने जी-तोड़ मेहनत की है।’ फिल्म की कहानी के बारे में अजय ने बताया, ‘यह फिल्म कोई मैसेज नहीं देती है,लेकिन इसके बावजूद यह अपने आप में एक अनूठी फिल्म है। सबसे अहम बात फिल्म की यह है कि इसके जरिये यह बताने की कोशिश की गई है कि महिला और पुरुष में कोई विभेद नहीं है और दोनों एकसमान है।’

अपनी फिल्मों को लेकर अजय का कहना है कि फिल्म के चयन की उनकी प्रक्रिया आज ज्यादा स्पष्ट हो गई है और अब वह किसी भी प्रोजेक्ट के लिए तभी हां करते हैं जब उसकी पटकथा अच्छी हो। जहां तक ‘बादशाहो’ की बात है, तो हमने मिलन के साथ इसकी स्टोरी पर जमकर मेहनत की है। अजय ने कहा कि किसी अभिनेता के लिए भावनात्मक वजह से किसी फिल्म को हां कहने का जोखिम बहुत ज्यादा है। उन्होंने कहा, ‘पहले हम सिर्फ किसी विचार को सुनकर ही कह देते थे कि इस पर फिल्म करते हैं। फिल्में बेतरतीब तरीके से रिलीज हो रही थीं। हम एक समय पर 12 फिल्में कर रहे होते थे, इसलिए हम काफी फिल्में सिर्फ रिश्तों और भावनाओं के आधार पर करते थे। लेकिन, फिल्म चुनने के लिये प्रक्रिया अब ज्यादा स्पष्ट हो गई हैं। अब मैं वास्तव में कारोबार से मतलब रखता हूं। जोखिम बहुत ज्यादा है और कई तरह का दबाव होता है।’

यह पूछने पर कि ‘बादशाहो’ किस तरह की फिल्म है? मिलन लूथरिया ने कहा, ‘फिल्म ‘बादशाहो’ एक हिसाब से पीरियड फिल्म जैसी है, जो आपातकाल के समय की कहानी को दिखाएगी। इसकी शूटिंग राजस्थान में की गई है।’मिलन लूथरिया ने कहा, ‘हालांकि, यह पूरी तरह पीरियड फिल्म नहीं है, लेकिनऐतिहासिक कहानियों से प्रेरित फिल्म जरूर है, क्योंकि फिल्म की कहानी 1970 के दशक के दरमियान लगी आपातकाल के दौर पर आधारित है। फिल्म को रजत अरोड़ा ने लिखा है।

_DSC8736फिल्म में मुख्य भूमिका में अजय देवगन, इमरान हाशमी, विद्युत जामवाल, इलियान डिक्रूज, ईशा गुप्ता, संजय मिश्रा समेत कई कलाकार हैं। फिल्म पहली सितंबर को रिलीज होगी। फिल्म में सनी लियोनी का एक आइटम सॉन्ग भी है, जिसे इमरान हाशमी के साथ फिल्माया गया है।’

फिल्म के बारे में अपनी राय रखते हुए इमरान हाशमी ने कहा, ‘‘बादशाहो‘ एक ऐसी फिल्म है, जिसमें मैं बार-बार काम करना पसंद करूंगा। मैं वास्तव में ऐसे काॅन्सेप्ट का प्रशंसक हूं। हालांकि, यह एक बड़े बजट की फिल्म है और करियर की शुरुआत में मुझे कभी ऐसा गुमान भी नहीं हुआ था कि आगे जाकर मेरे हिस्से में ऐसी फिल्म भी आ सकती है। मैंने इस फिल्म में काम करने के लिए बेहतरीन सह-कलाकारों की टीम को ध्यान में नहीं रखा,बल्कि इसकी अद्भुत कहानी ने मुझे इसमें काम करने के लिए मजबूर किया। और, मैंने इस फिल्म में काम करने के दौरान हर पल का भरपूर आनंद उठाया।’

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *